मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी को अपने प्रदेश की चिंता नहीं दुसरेे प्रदेश की चिंता में भिड़े – हितेश शुक्ला

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी को अपने प्रदेश की चिंता नहीं दुसरेे प्रदेश की चिंता में भिड़े – हितेश शुक्ला

बिलासपुर/छत्तीसगढ़ :-

छत्तीसगढ़ राज्य की राजनीति प्रश्न चिन्ह लगा रही छत्तीसगढ़ की शांति अमन चैन सौहार्दपूर्ण वातावरण को दूषित कर रही छत्तीसगढ़ की राजनीति यह घटना रविवार कवर्धा जिले के कबीरधाम की स्थिति बयां करती है किस प्रकार से जातिवाद के बीज को बो कर छत्तीसगढ़ राज्य कांग्रेस सरकार राजनीतिक रोटी सेक रही,
माननीय मुख्यमंत्री जी आपका हवाई जहाज और आपका हेलीकॉप्टर ना कि अपने आलाकमान को खुश करने हेतु यूपी लेकर जाना था, बल्कि छत्तीसगढ़ में शांति व्यवस्था बने रहे इस हेतु सबसे पहले आपको हवाई जहाज से कवर्धा जाना था, यहां किसी कि परमिशन की हवाई जहाज उतारने में आपको आवश्यकता नहीं पड़ती, लेकिन करें तो क्या करें आलाकमान की नजरों में दिखना जरूरी है छत्तीसगढ़ राज्य भला ही आप की राजनीति के चलते अशांति फैले लेकिन आपको आकाओं को खुश करना है ना कि छत्तीसगढ़ राज्य की जनता को,
आपका हेलीकॉप्टर हवाई जहाज बिना किसी परमिशन के सबसे पहले कवर्धा में उतरना चाहिए था लेकिन आपने अपना हवाई जहाज हेलीकॉप्टर आपकी जानकारी के अनुसार आप जानबूझकर वाहवाही हेतु यूपी जाकर रोटी सेकने का कार्य कर रहे हैं

आपको बता दे की 3 अक्टूबर 2021 को 2 अलग समुदाय आपस में भिड़ गए दोनों समुदाय का पावन पर्व आने वाला हैं, जिससे पहले अशांति फैलाने वाले दहशतगर्दों ने उत्पात मचाना शुरू कर दिया है।

दरअसल, त्यौहार से पहले लोग शहर में अपने धार्मिक चिन्हों के प्रतीक के साथ-साथ सजावट सड़को, चौक, चौराहा पर कर रहे हैं। लेकिन अशांति फैलाने वाले लोग, जिन्हें यह बात हजम नहीं हो रही है उनकी वजह से झगड़े का माहौल उत्पन्न हुआ।

बता दे कि लोहारा नाका चौक पर बने डिवाइडर पर लगे झंडे पर हक की लड़ाई शुरू हो गई हैं। झंडे पर हमारा हक है, कहते हुए दो पक्षों के सैकड़ों लोग आपस में झगड़ा बढ़ाने लगे, जिसके कारण जाम की स्थिति उत्पन्न हो गई। इतनी भयंकर स्थिति थी कि मारपीट तक शुरू हो गई।

सूचना के तत्काल बाद बड़ी घटना से पहले थाना प्रभारी मुकेश सोम तत्काल टीम के साथ पहुंचे, जहां उन्होंने बड़ी मशक्कत के बाद झगड़े को शांत कराया। कुछ लोगों को गिरफ्तार कर थाने ले जाया गया

पुलिस ने जैसे ही असामाजिक तत्वों को गिरफ्तार
किया। उसके बाद दूसरे गुट के लोग थाने के बाहर आ
गए और पथराव करने लगे। जैसे ही भीड़ को थाने से
खदेड़ा गया, एकाएक भीड़ दौड़ते हुए दुकानों और ठेलों
में तोड़फोड़ करने लगी, जिसकी वजह से शहर में
तनाव का माहौल उत्पन्न हो गया

वही तोड़फोड़ से डर के कारण सिग्नल चौक से लोहारा रोड तक सभी दुकानों ने शटर गिरा दिए है
और खुद को कैद कर लिया पुलिस दहशतगर्दों को रोकने में नाकामयाब नजर आई इस बात से साफ है कि कभी भी कोई भी बड़ी घटना शहर में घट सकती है जिसके लिए पुलिस को चौकन्ना रहना पड़ेगा। हालांकि जिले में धारा 144 लगा दिया गया है एवं पुलिस, सुरक्षा बल हर चौक चौराहों पर तैनात है।

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के युवा कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष हितेश शुक्ला ने कहा कि माननीय मुख्यमंत्री जी को ऐसे गंभीर मुद्दों को  जल्द ही संज्ञान में लेकर कार्रवाई करने के आदेश देनी चाहिए।

Uncategorized