सवाल पब्लिक का: Punjab में Channi सरकार गिराने के लिए क्यों मजबूर हुए कैप्टन ?

सवाल पब्लिक का: Punjab में Channi सरकार गिराने के लिए क्यों मजबूर हुए कैप्टन ?

पंजाब में कैप्टन अमरिंदर के ताजा बयान आगामी विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के लिए कई मुश्किलें पैदा कर सकते हैं। कैप्टन ने साफ कर दिया है कि वो कांग्रेस में नहीं रहेंगे।

मुख्य बातें

  • कैप्टन ने पंजाब में कांग्रेस के लिए मुश्किल किए हालात
  • कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि वह बीजेपी में शामिल नहीं होगें, लेकिन कांग्रेस में भी नहीं रहेंगे
  • कैप्टन ने सिद्धू पर भी बोला हमला

Rahul Gandhi ने Punjab की जो सियासी ‘किताब’ लिखनी शुरू की थी उसे संभवतः पूरी कैप्टन ही करेंगे | कैप्टन ने हाल ही के अपने बयान से साफ़ कर दिया है कि उनकी आगे की दिशा कांग्रेस और सिद्धू दोनों को नुकसान पहुंचाने वाली है | चार दशक तक पंजाब में कांग्रेस को खून-पसीने से सींचने के बाद कैप्टन को जिस तरह दूध में पड़ी मक्खी की तरह निकाल कर फेंक दिया गया वो शायद उनके गुस्से की एक बड़ी वजह हो सकती है। कैप्टन पद के भूखे नहीं ये उनके विरोधी भी जानते हैं कहते भी हैं । लेकिन सम्मान से समझौते की बात पर वो बर्दाश्त नहीं करते।

क्या कहा अमरिंदर सिंह ने

मीडिया से बात करते हुए कैप्टन ने कहा, ‘पहली बात, मैं अब कांग्रेस में नहीं रहूंगा। दूसरी बात, मैं बीजेपी ज्वाइन नहीं कर रहा हूं।  सिद्धू पंजाब के लिए सही नहीं हैं। अगर वो लड़ेगा, जहां से भी लड़ेगा, मैं उसे नहीं जीतने दूंगा। सिद्धू का काम है पार्टी चलाना, चरणजीत सिंह चन्नी का काम है सरकार चलाना। मैं सरकार चलाने में इंटरफेयरेंस कभी नहीं होती। मैंने अपने समय में दो बार सरकार चलाई है। तीन बार मैं PCC अध्यक्ष रहा हूं। एक दूसरे से बात करते हैं। लेकिन आखिरी फैसला चन्नी का है, जो मुख्यमंत्री हैं, ना कि सिद्धू का।’

[banner caption_position=”bottom” theme=”default_style” height=”auto” width=”100_percent” count=”-1″ transition=”fade” timer=”4000″ auto_height=”0″ show_caption=”1″ show_cta_button=”1″ use_image_tag=”1″]

 

महिला डॉ देवल राठौर व CHC इंचार्ज लक्ष्य परिहार पर लगे भर्ष्टाचार के आरोप, चिकित्सालय के सामने लगाया धरना

भाजपा मंडल पदाधिकारियों व बूथ अध्यक्षों की बैठक संपन्न

 

 

प्रदेश बड़ी खबर राजनीति