भारतीय सेना ने गुरुवार को एलओसी पर उरी के पास रामपुर सेक्टर में 3 आतंकवादियों को ढेर कर दिया है।

भारतीय सेना ने गुरुवार को एलओसी पर उरी के पास रामपुर सेक्टर में 3 आतंकवादियों को ढेर कर दिया है। ये आतंकवादी हाल ही में पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर से भारतीय सीमा प्रवेश किए थे। सरकारी सूत्रों ने बताया कि सेना की ओर से किए गए इस ऑपरेशन में ढेर हुए आतंकवादियों के पास से पांच एके-47, 8 पिस्तौल और 70 हथगोले बरामद किए गए हैं। इस संबंध में अभी पूरी जानकारी आनी बाकी है।

बता दें कि जम्मू-कश्मीर के शोपियां में आतंकवादियों और सुरक्षा बलों के साथ हुई मुठभेड़ में एक आतंकावादी मारा गया था। यह मुठभेड़ बुधवार की रात को हुई थी। कश्मीर क्षेत्र की पुलिस ने ट्वीट कर बताया कि कल रात, आतंकवादी अनायत अशरफ डार ने जीवर हमीद भाटी में एक नागरिक पर गोलियां चला दी थी, जिससे वह व्यक्ति गंभीर रूप से घायल हो गया और अब भी अस्पताल में भर्ती है।
The Indian Army on Thursday gunned down 3 terrorists in Rampur sector near Uri along the LoC. These terrorists had recently entered the Indian border from Pakistan-occupied Kashmir. Government sources said that five AK-47s, 8 pistols and 70 grenades have been recovered from the terrorists killed in this operation by the army. Complete information is yet to come in this regard.

Let us inform that a terrorist was killed in an encounter with terrorists and security forces in Shopian, Jammu and Kashmir. The encounter took place on Wednesday night. Kashmir region police tweeted that last night, terrorist Anayt Ashraf Dar had opened fire on a civilian in Jeewar Hameed Bhati, injuring the man seriously and is still hospitalised.
वैक्सीनेशन सेंटर तक पहुंचने में असमर्थ लोगों के लिए केंद्र सरकार ने घर में ही टीकाकरण की व्यवस्था किए जाने को मंजूरी दे दी है।
हेल्थ मिनिस्ट्री ने गुरुवार को कहा कि ऐसे लोगों को घर पर ही हेल्थ टीमों की ओर से टीका लगाया जाएगा। इसके लिए उन्हें कहीं भी टीकाकरण के लिए आवेदन करने की जरूरत नहीं होगी। नीति आयोग के सदस्य डॉ. वीके पॉल ने साप्ताहिक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान सरकार के इस फैसले के बारे में जानकारी दी। इस फैसले के तहत NHCVC यानी नियर टू होम कोविड वैक्सीनेशन सेंटर्स स्थापित किए जाएंगे। इससे दिव्यांगों और बुजुर्गों को कोरोना टीका लगवाने के लिए यात्रा करने की जरूरत नहीं होगी और उन्हें नजदीक में ही टीका लग सकेगा।

हेल्थ मिनिस्ट्री के सचिव राजेश भूषण की ओर से जारी सूचना में बताया गया कि घर-घर जाकर वैक्सीनेशन का प्रस्ताव एक्सपर्ट कमिटी के सामने रखा गया था। लेकिन इस प्रस्ताव को मंजूरी नहीं मिली। हालांकि जरूरमंद लोगों के घर के पास ही वैक्सीनेशन सेंटर्स बनाकर उन्हें टीका लगाए जाने का फैसला लिया गया है। इस प्रस्ताव के तहत कम्युनिटी सेंटर्स, रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन सेंटर, पंचायत बिल्डिंग, स्कूल की इमारत आदि में केंद्र स्थापित किए जाएंगे और वहीं कोरोना के टीके लगाए जाएंगे।
For those unable to reach the vaccination center, the central government has approved the arrangement of vaccination at home. has given.
The Health Ministry said on Thursday that such people would be vaccinated at home by the health teams. For this they will not need to apply for vaccination anywhere. NITI Aayog member Dr. VK Paul informed about this decision of the government during the weekly press conference. Under this decision, NHCVC i.e. Near to Home Kovid Vaccination Centers will be established. With this, the differently-abled and the elderly will not need to travel to get the corona vaccine and they will be able to get the vaccine nearby.

In the information released by Rajesh Bhushan, Secretary, Health Ministry, it was told that the proposal of door-to-door vaccination was placed before the expert committee. But this proposal was not approved. However, it has been decided to vaccinate the needy people by making vaccination centers near their homes. Under this proposal, centers will be set up in community centers, resident welfare association centers, panchayat buildings, school buildings, etc. and there will be corona vaccines.

बड़ी खबर