झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने सोना सोबरन धोती साड़ी लुंगी वितरण योजना का बुधवार को शुभारंभ किया।

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने सोना सोबरन धोती साड़ी लुंगी वितरण योजना का बुधवार को शुभारंभ किया। इस योजना से राज्य के 58 लाख परिवारों को 10 रुपये में साल में दो बार धोती साड़ी योजना का लाभ मिलेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस योजना के लिए सरकार ने 500 करोड़ रुपये की व्यवस्था की है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कुछ लोग षड्यंत्र के तहत यहां के मूलवासियों को नौकरियों में नहीं आने देने की फिराक में थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकारी विभागों में उल्टा पुल्टा नियमावली बना कर दूसरे राज्यों के लोगों की बहाली कर रहे थे। हम रोज झारखंडियों के हित मे नए कानून बना रहे हैं। 20 साल से बाहरी मानसिकता के लोग मूलवासियों की भावनाओं से खिलवाड़ कर रहे थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार गलत मंसूबे का सफाया कर रही है। ताकि मूलवासियों को उनका हक मिल सके। 5 साल में पूर्व की सरकार एक भी जेपीएससी परीक्षा नहीं कर सकी थी। हमारी सरकार ने इस वर्ष जेपीएससी परीक्षा कराई। इसमे लाखों छात्र शामिल हुए। मुख्यमंत्री ने कहा कि सोना सोबरन धोती साड़ी योजना को पूर्ववर्ती सरकार ने बंद कर दिया था।

Jharkhand Chief Minister Hemant Soren launched the Sona Sobran Dhoti Sari Lungi Distribution Scheme on Wednesday. Under this scheme, 58 lakh families of the state will get the benefit of dhoti saree scheme twice a year for 10 rupees. The Chief Minister said that the government has made a provision of Rs 500 crore for this scheme.

The Chief Minister said that some people were trying to prevent the indigenous people from joining jobs as part of a conspiracy. The Chief Minister said that by making reverse rules in government departments, people of other states were being reinstated. We are making new laws every day in the interest of Jharkhandis. For 20 years, outsiders were playing with the sentiments of the natives.

The Chief Minister said that our government is eliminating the wrong intentions. So that the indigenous people can get their rights. The previous government could not conduct even a single JPSC exam in 5 years. Our government has conducted JPSC exam this year. Lakhs of students participated in it. The Chief Minister said that the Sona Sobran Dhoti Sari scheme was discontinued by the previous government.

बड़ी खबर राजनीति