*कोर्रा के हेल्थ एवं वेलनेस सेंटर पंहुच मार्ग खराब* मरीज को आवाजाही में हो रही परेशानी

*कोर्रा के हेल्थ एवं वेलनेस सेंटर पंहुच मार्ग खराब*

मरीज को आवाजाही में हो रही परेशानी

धमतरी- ( रिपोर्ट गुलाब साहू कुरूद) प्रदेश सरकार गरीबों को इलाज मुहैया कराने के लिए प्रयासरत है, लेकिन क्षेत्र के अधिकतर स्वास्थ्य केंद्रों को जाने वाले रास्ते ऊबड़ खाबड़ है। साथ ही बरसात में जलभराव व कीचड़ की स्थिति बनी रहती है। इस कारण ग्रामीणों को अस्पताल तक पहुंचने के लिए परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। कुरुद ब्लॉक के कोर्रा स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का संपर्क मार्ग कच्चा है। थोड़ी सी बारिश के कारण रास्ते में जलभराव व कीचड़ की स्थिति बन जाती है। रास्ते में कीचड़ होने से रास्ता स्वास्थ्य केंद्र जाने वाला कठिन हो जाता है। जिससे लोग अस्पताल तक नहीं पहुंच पाते है। इन दिनों हो रही बारिश के कारण अस्पताल के कच्चे मार्ग में कीचड़ से अटा पड़ा है। कीचड़ के कारण मरीजों का अस्पताल आना कम हो गया है। अस्पताल में कई दफे एंबुलेंस का आवागमन होता है, सड़क पर कीचड़ इतना है कि जिससे पहिया फसने का डर बना होता है। या यूं कहें की चालक की छोटी चूंक बड़ी परेशानियों का सबब बन सकता है। मोटरसाइकिल से आनेजाने लोग फिसल कर गिरने से चोटिल हो चुके है। स्वास्थ्य केंद्र पर आसपास के ग्राम भेंडरा, लोहारपथरा, चरोटा, इर्रा, जुगदेही, सौराबांधा, सिलौटी, जोरातराई, खपरी, सेमरा, तर्रागोंदी, टिपानी, कोपेडीह, पचपेड़ी, भेलवाकुदा, सिलघट, गाड़ाडीह, रामपुर, हंचलपुर, बोरझरा, गातापार सहित अन्य गांवों के लोग इलाज करवाने आते हैं। संपर्क मार्ग खराब होने के कारण गर्भवती महिलाएं, बुजुर्ग व बच्चे स्वास्थ्य केंद्र आने से कतराते हैं। ग्राम कोर्रा के सरपंच चोवा राम साहू का कहना है कि कोर्रा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र जाने वाले मार्ग को पीडब्ल्यूडी विभाग द्वारा पक्का कराया जा रहा है, जिसके लिए निर्माण समग्री पहुंच चुकी है, वर्तमान में आस्पताल को नए बिल्डिंग में शिफ्ट किया गया है जिसका मार्ग भी परिवर्तन किया जाना है, जल्द ही सड़क निर्माण कार्य शुरू किया जाएगा।

प्रदेश