वित्त विहीन शिक्षको के विभिन्न मांगो के संबंध

सेवा में,

माननीय मुख्यमंत्री जी,

उत्तर प्रदेश सरकार लखनऊ,

 

द्वारा

श्रीमान,

संयुक्त शिक्षा निदेशक

वाराणसी मंडल, वाराणसी ।

 

बिषय-

“विभिन्न माँगो के संबंध में ज्ञापन ”

1- वित्तविहीन मान्यता प्राप्त माध्यमिक विद्यालयों में कार्यरत शिक्षक एवं शिक्षणेत्तर कर्मचारियों को जीविकोपार्जन हेतु सम्मानजनक मानदेय सरकार द्वारा राज्य कोष से दिया जाए ।

2- वित्तविहीन शिक्षकों एवं शिक्षणेत्तर कर्मचारियों की सेवा नियमावली बनाकर सेवा शर्तों से आच्छादित किया जाए।

3- वित्त विहीन मान्यता की असंगत धारा 7 (क )क को संशोधित करके सुसंगत धारा 7 (4)में परिवर्तित किया जाए।

4- मदरसा आधुनिकीकरण योजना के शिक्षकों की वेतन संबंधित सभी समस्याओं का निराकरण कराया जाए। तथा 40% राज्य सरकार अपना अंश जारी करे और केंद्र सरकार से 2017 से 2021तक का बकाया केद्रांश मगवाये

5 मदरसा आधुनिकीकरण शिक्षको की सेवा नियमावली बनाकर स्थाई करे।

6- कोरोना काल में मृत शिक्षकों के आश्रितों को 50 लाख रुपया मुआवजा दिया जाए ,उनके आश्रित को नौकरी प्रदान की जाए।

7- राजकीय एवं माध्यमिक सहायता प्राप्त शिक्षकों की पुरानी पेंशन की व्यवस्था लागू किया जाए।

8- शासकीय और अशासकीय शिक्षण संस्थाओं में अभियान चलाकर अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति वह पिछड़ा वर्ग के अभ्यर्थियों का आरक्षण कोटा पूरा किया जाए।

उपर्युक्त मांगों के संदर्भ में प्रदेश नेतृत्व द्वारा लिए गए निर्णय के अनुसार 27 जुलाई 2021 दिन मंगलवार समय 11:00 बजे संयुक्त शिक्षा निदेशक (जे 0डी 0)कार्यालय वाराणसी पर एक दिवसीय धरना का निर्णय लिया गया है।

अजय कुमार उपाध्याय

रिपोर्टर

वाराणसी

Uncategorized