जिले के ऐतिहासिक और धार्मिक धरोहरों को पर्यटन स्थल का दर्जा दिलाने का लिया गया निर्णय ।

औरंगाबाद सदर प्रखंड स्थित अधिवक्ता संघ भवनऔरंगाबाद के सभागार में बासमती सेवा केंद्र एवं जनेश्वर विकास केंद्र के संयुक्त तत्वावधान में एक बैठक का आयोजन किया गया |बैठक की अध्यक्षता प्रसिद्ध कवि एवं लेखक डॉ सुरेंद्र मिश्रा ने किया| सचिव सिद्बेश्वर विद्यार्थी ने बताया कि देव के सर्वांगीण विकास के लिये देव के बुद्धिजीवियों द्बारा तैयार मास्टर प्लान पर गहन बिचार विमर्श किया गया तथा संशोधनों के साथ सर्वसम्मति से पारित करते हुये शीध्र डी. एम को समर्पित करने का प्रस्ताव पारित किया गया। दुसरे प्रस्ताव मे जिले के देवकुंड, बिष्णुधाम , सत्यचंडी , पंचदेव धाम एंव पीपरा के धार्मिक महिमा और ऐतिहासिक गरिमा को देश दूनियां मे प्रचारित और प्रसारित करने तथा स्थानीय लोगों के सहयोग से पर्यटक स्थल का दर्जा दिलाने का निर्णय लिया गया । इसके लिए बिष्णुधाम मे 1 अगस्त को बैठक बुलाने की जिम्मेदारी मिडिया प्रभारी सुरेश विद्यार्थी और शिक्षक नेता रामभजन सिंह को दिया गया । शेष जगहों पर बैठक बुलाने की जिम्मेदारी सचिव सिद्धेश्वर विद्यार्थी और मिडिया प्रभारी सुरेश विद्यार्थी को दिया गया ।साथ ही पिछले सप्ताह आयोजित बासमती सेवा केंद्र द्वारा देव प्रखंड के चैनपुर गांव में बासमती देवी की पुण्यतिथि पर आयोजित श्रवण कुमार सम्मान समारोह की समीक्षा की गई| समीक्षा के क्रम में वक्ताओं ने एक स्वर में कार्यक्रम की सराहना की एवं अगले वर्ष भव्य कार्यक्रम करने का निर्णय लिया| साथ ही सावन मे भब्य तरीक़े से चैनपुर मे तुलसी जयंती आयोजित करने का प्रस्ताव पारित किया गया।आज के बैठक में रविंद्र कुमार सिंह, डॉ रामाधार सिंह ,राम भजन सिंह, डॉ० संजीव रंजन, पुरुषोत्तम पाठक,रामचंद्र सिंह,लालदेव सिंह, शिव नारायण सिंह, महाराणा प्रताप सेवा संस्थान के पूर्व सचिव अनिल कुमार सिंह, विनोद मालाकार, सुरेश विद्यार्थी सहित अन्य उपस्थित थे|


A meeting was organized under the joint aegis of Basmati Seva Kendra and Janeshwar Vikas Kendra in the auditorium of Aurangabad Sadar Block, Advocate Sangh Bhawan, Aurangabad. The meeting was presided over by Dr. Surendra Mishra, a famous poet and writer. Secretary Sidbeshwar Vidyarthi informed that for the all-round development of Dev, the master plan prepared by the intellectuals of Dev was discussed thoroughly and with amendments, a resolution was passed to dedicate it to DM soon. In the second resolution, it was decided to publicize and disseminate the religious glory and historical dignity of Devkund, Bishnudham, Satyachandi, Panchdev Dham and Pipra in the country and to get the status of tourist places with the cooperation of the local people. For this, the responsibility of convening a meeting in Bishnudham on August 1 was given to media in-charge Suresh Vidyarthi and teacher leader Rambhajan Singh. The responsibility of convening the meeting at the remaining places was given to Secretary Siddheshwar Vidyarthi and media in-charge Suresh Vidyarthi. Also, the Shravan Kumar Samman ceremony organized last week by Basmati Seva Kendra in Chainpur village of Dev block on the death anniversary of Basmati Devi was reviewed. In the course of the review, the speakers praised the program in one voice and decided to organize a grand program next year. Also, a resolution was passed to organize Tulsi Jayanti in Chainpur in a grand manner in Sawan. In today’s meeting, Ravindra Kumar Singh, Dr. Ramadhar Singh, Ram Bhajan Singh, Dr. Sanjeev Ranjan, Purushottam Pathak, Ramchandra Singh, Laldev Singh, Shiv Narayan Singh, former Secretary of Maharana Pratap Seva Sansthan Anil Kumar Singh, Vinod Malakar, Suresh Vidyarthi and others were present.

Uncategorized