पानी-पानी हुआ हरियाणा: मानसून की पहली बारिश ने हरियाणा में मचाया कोहराम, कई गांवों में बाढ़ जैसे हालात

पानी-पानी हुआ हरियाणा: मानसून की पहली बारिश ने हरियाणा में मचाया कोहराम, कई गांवों में बाढ़ जैसे हालात

यमुनानगर | लंबे समय से भीषण गर्मी का सामना कर रहे हरियाणा के लोगों को मॉनसून का बेसब्री से इंतजार था ताकि उनको गर्मी से राहत मिली. बीते रविवार से राज्य के भीतर मॉनसून के लिए अनुकूल परिस्थितियां बनती नजर आई. सोमवार देर रात और आज मंगलवार प्रदेश के कई जिलों में मॉनसून की जबरदस्त बारिश हो रही है. इससे लोगों को गर्मी से राहत तो मिली लेकिन कई लोगों के लिए यह बारिश आफत बनकर आसमान से बरसी है. 

हरियाणा की यमुनानगर इलाके की कई गांवों में बीते कल और आज हुई बारिश से बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं. गांव के कई लोगों की घरों में पानी तक घुस गया है जिससे लोगों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. दरअसल, यमुनानगर में कल से हो रही जोरदार मानसूनी बारिश के कारण चांदपुर गांव के पास नागल ड्रेन टूट गई. सुबह करीब सात बजे यह हादसा हुआ. ड्रेन टूटने के बाद पानी के तेज बहाव आबादी व खेतों में भरने लगा. आसपास के ग्रामीणों में हड़कंप मच गया. 

नागल ड्रेन टूटने के कारण अराइयांवाला, चांदपुर, बांबेपुर, नागल, बहादुरपुर, खिजराबाद, किशनपुर सहित अन्य कई गांवों तक बरसाती पानी फैल गया. हजारों एकड़ फसल जलमग्न हो गई. स्थिति का जायजा लेने के लिए साढे दस बजे तक क्षेत्र में किसी भी प्रशासनिक अधिकारी ने दौरा नहीं किया. इस बात को लेकर ग्रामीणों में रोष है. तेज बहाव से ग्रामीणों के खेतों में भी पानी पर गया जिससे भारी नुकसान हुआ. गौरतलब बात यह है कि ड्रेन का निर्माण सिंचाई विभाग द्वारा बारिश के पानी के निकास के लिए ही किया गया था लेकिन पहली ही मानसून बारिश को ड्रेन नहीं झेल पाया. 

वही देश के टॉप शहरों में शामिल साइबर सिटी गुड़गांव में कुछ ही घंटों की बारिश के बाद सड़कों में जलभराव के कारण बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं. पूरे शहर में जगह-जगह जल भराव हो गया है. ऐसे में नौकरी पेशा और दोपहिया वाहन चालकों को खासी मुश्किलों का सामना करना पड़ा. भारी बारिश से निपटने के लिए प्रशासन की तमाम तैयारियां धरी की धरी रह गई. 

मौसम विभाग की माने तो हरियाणा राज्य में आने वाले कुछ दिनों तक मानसून प्रभावी रूप से सक्रिय रहेगा. कृषि मौसम विज्ञान विभाग हिसार द्वारा जारी पूर्वानुमान रिपोर्ट के मुताबिक, करनाल, पानीपत, सोनीपत, रोहतक, जींद, अंबाला, कुरुक्षेत्र, कैथल और इनके आसपास के इलाकों में जबरदस्त बारिश होने की संभावना है.

बड़ी खबर