प्रभात रॉय के जज्बे को सलाम,इंसानियत अभी भी बाकी है मेरे दोस्त

बिलासपुर/छत्तीसगढ़ –

एक 17 वर्षीय युवक जिसकी सोच और कारनामे ने बतला दिया कि अभी भी इंसानियत जिंदा है,

सिरगिट्टी गोविंद नगर निवासी प्रभात राय काफी काम उम्र  17 वर्ष के है लेकिन इनके इस नेक काम की वजह से बिलासपुर शहर के लोग कुछ ही होंगे जो इनके इस नेक कार्य से वाकिफ नहीं होंगे


17 वर्षीय प्रभात रॉय ने शहर वाशियो को एक ऐसा नेक काम करके दिखा दिये, जिससे प्रभात ने लोगो के दिलो में अपनी एक अलग पहचान बना ली है[banner id=”35850″ caption_position=”bottom” theme=”default_style” height=”auto” width=”auto” show_caption=”1″ show_cta_button=”1″ use_image_tag=”1″]
पिछले 90 दिनों से लगातार प्रभात रॉय द्वारा बेजुबान जानवरो को भोजन कराया जा रहा। इस 17 वर्षीय प्रभात ने यह जतला दिया कि  उम्र छोटी  हो  यह बात मायने नहीं रखती।  सोच अचछी होनी चाहिएं।

सोच अच्छा होनेे के साथ ही साथ सोच को पूरा करने का जज्बा भी होना चाहिए।

इस नेक कार्य से कुछ ही लोग अनजान होंगेे।

इनकी यही अच्छी सोच ही इन्हे दूसरो से काफी बड़ा बना देती है।[banner id=”35146″ caption_position=”bottom” theme=”default_style” height=”auto” width=”auto” show_caption=”1″ show_cta_button=”1″ use_image_tag=”1″]

लोग जानवरो की ओर मुड़कर देखते नहीं की ये जानवर खाए होंगे भी या नहीं लोगो को कोई फर्क नहीं पड़ता पर जरा कभी सोच कर देखिएगा जब एक इंसान के बच्चे को भूख लगती है या प्यास तो वो चिल्ला चिल्ला कर धरती आसमान एक कर देता है।पर जब इन जानवरो को या फिर इनके बच्चो को भूख -प्यास लगती है तब ये जानवर बेचारे तो बोल भी नहीं पाते कि हमें भूख लगी है , प्यास लगी है ये बेचारे जानवर बस इंसानों की ओर आस लगाए देखते रहते है कि इनहे कोई पानी या खाना दे दे पर ऐसा नहीं होता बल्कि इन्हे डंडों से पीटकर भगा देते है कुछ लोग।

[banner caption_position=”bottom” theme=”default_style” height=”auto” width=”100_percent” group=”not-reporter” count=”9″ transition=”fade” timer=”4000″ auto_height=”0″ show_caption=”1″ show_cta_button=”1″ use_image_tag=”1″]लोगो की इसी सोच को बदलने के लिए निकल पड़े है प्रभात रॉय जो बिना किसी स्वार्थ के इन बेजुबानों को भोजन खिला रहे है पिछले 90 दिनों से। । प्रभात रॉय रोज रात में इन बेजुबानों के पास जाकर ईन्हें भोजन खिलाते है।
इंसानों को तो लोग खाने के लिए दे देते है
लेकिन बहुत कम लोग होते है जो इन बेजुबानों के लिए सोचते होंगे और इन्हे खाना देते होंगे।

[banner caption_position=”bottom” theme=”default_style” height=”auto” width=”100_percent” group=”ramakrishna-hospital-kota” count=”9″ transition=”fade” timer=”4000″ auto_height=”0″ show_caption=”1″ show_cta_button=”1″ use_image_tag=”1″]प्रभात रॉय ने लाक डाउन के समय जरूरत मंद इंसानों की निस्वार्थ सेवा तो किए ही है इनके अलावा अभी तक ये लगातार बेजुबान जानवरों के लिए भी भोजन मुहैया कर रहे है।
प्रभात रॉय ने कहा कि ईश्वर ने मानव जीवन दिया है तो नेक कार्य निस्वार्थ भाव से करता रहूंगा । अब तक प्रभात रॉय ने


[banner caption_position=”bottom” theme=”default_style” height=”auto” width=”100_percent” group=”jalandhar-hospitals” count=”8″ transition=”fade” timer=”4000″ auto_height=”0″ show_caption=”1″ show_cta_button=”1″ use_image_tag=”1″]शहर के सभी वार्डो में प्रत्येक रात्रि मे जानवरो को भोजन खिलाया है।प्रभात रॉय कभी सरकंडा क्षेत्र के कॉलोनियों में तो कभी विद्यानगर की गलियों में तो कभी मंगला चौक की गलियारों में तो कभी मोपॅका के चौराहों में जा जाकर इन बेजुबानों को भोजन कराते है।
यह नेक कार्य बिलासपुर शहर के साथ साथ पूरे देश के लोगो को एक नया सन्देश दे रहे है कि जानवरो के लिए पानी और भोजन जितना दे सके जरूर देवे।।।।।।।

[banner caption_position=”top” theme=”default_style” height=”auto” width=”100_percent” count=”19″ show_caption=”1″ show_cta_button=”1″ use_image_tag=”1″]

Uncategorized