यूपी। आजमगढ़ जिले के बिलरियागंज थाना क्षेत्र के मधनापार रामगढ़ मार्ग पर स्थित मधनापार पुलिया के समीप बाग में 21 वर्षीय मनीष मिश्रा पुत्र राकेश मिश्रा को दो युवकों ने समोसा आदि खिलाते हुए लाये व हल्की बारिश में बाग में ले गए और मनीष मिश्रा पुत्र राकेश मिश्रा को प्रेम प्रसंग मामले में चाकु मारना शुरू किया

आजमगढ़ जिला ब्यूरो चीफ़ शुभम कुमार रावत ख़बर व विज्ञापन के लिए सम्पर्क सूत्र–8090100049

 

यूपी। आजमगढ़ जिले के बिलरियागंज थाना क्षेत्र के मधनापार रामगढ़ मार्ग पर स्थित मधनापार पुलिया के समीप बाग में 21 वर्षीय मनीष मिश्रा पुत्र राकेश मिश्रा को दो युवकों ने समोसा आदि खिलाते हुए लाये व हल्की बारिश में बाग में ले गए और मनीष मिश्रा पुत्र राकेश मिश्रा को प्रेम प्रसंग मामले में चाकु मारना शुरू किया कि मनीष मिश्रा उक्त दोनों युवकों से बाजता रहा और बारिश होती रही और दोनों चाकू से मारते रहे चार पांच चाकू मारने पर मनीष बास के कड़ियां पर गिर गया

 कि दोनों मामा भांजे ने तुरंत चाकू से गला काट दिए और फरार हो गए जब हल्की बारिश समाप्त हुई तो अगल बगल के लोगों ने उसी बाग के रास्ते खेत देखने गए और जहां मृतक हालत में मनीष मिश्रा पुत्र राकेश मिश्रा गिरा हुआ था जिसमें लोगों ने इसकी सूचना थानाध्यक्ष धर्मेंद्र कुमार सिंह को दिया थानाध्यक्ष अपने साथ एस आई ओमप्रकाश यादव प्रथम,एस आई कन्हैया लाल मौर्य व एस आई अवधेश कुमार के साथ कांस्टेबल उपेन्द्र यादव प्रमोद राकेश ,संगम, संजीव, कांस्टेबल के साथ महिला कांस्टेबल शालिनी मौके पर पहुंच गए और वहां से शव कब्जे में करके जांच पड़ताल शुरू किया जिसमें मनीष के पाकेट में मोबाइल मिला जिसके आधार पर परिजनों को सुचना दी गई परिजन जब आये और मृतक मनीष मिश्रा को पहचान लिया जिसमें परिजनों ने बताया कि घर से चाचा को ताप्ती गंगा ट्रेन पर बैठाकर कर वापसी बिलरियागंज के पटवध सरैया स्थिति पालिटेक्निक कालेज पर आना था और उसके दोस्तों ने मोबाइल के सहारे उसके साथ हो लिए और एक युवक मनीष के साथ हेलमेट व माक्स लगाये हुए पालिटेक्निक कालेज में गया जो सीसीटीवी कैमरे में साथ दिखाई दिया लेकिन कालेज में प्रवेश किया और साथी को सीसीटीवी कैमरा दिखाई दिया तो वह मुंह मोड़ लिया और फिर मनीष के साथ दो युवक हो गये और तीनों साथ आये और रास्ते में समोसा लेकर मधनापार रोड पकड़कर घर जाने लगे कि मधनापार पुलिया के समीप हल्की फुल्की बारिश के बहाने बाग में ले गया बात छेड़ते हुए चाकू से मारना शुरू कर दिया जिसमें मनीष भी दोनों व्यक्तियों से खुब लड़ा लेकिन कई चाकुओं के बाद वह बांस की कड़ियां पर गिर पड़ा जिसमें दोनों ने चाकू से गला रेत कर हत्या कर फरार हो गए जिसमें पियुस मिश्रा ने बताया कि विगत दो माह पुर्व एक लड़की से मनीष मिश्रा का साथी व मनीष दोनों प्यार करते थे जिसमें काफी हो हल्ला हुआ था उनके बाद से उक्त लड़की से दुर रहने की हिदायत देता रहा जब बात नहीं बनी तो अभियुक्त रुपेश उपाध्याय पुत्र स्व: दिवाकर उपाध्याय ग्राम सेहदा थाना कन्धरापुर को रात में ही पुलिस ने पकड़ लिया और कड़ाई से पुछताछ में रुपेश ने अपना जुर्म कबूल कर लिया रुपेश ने बताया कि इस घटना में और मेरा भांजा सागर तिवारी पुत्र स्व: बृजेश तिवारी ग्राम धनकपुर थाना सिधारी भी साथ में था जिसको पुलिस गिरफ्तार करने की योजना बनाई लेकिन वह घर छोड़ कर फरार हो गया जबकि रुपेश उपाध्याय को पुलिस एक अदद अवैध चाकू व एक अदद 315का कट्टा व एक जिन्दा कारतूस 315 बोर के साथ हत्या में प्रयुक्त एच एफ डिलक्स मोटरसाइकिल के साथ जेल भेज दिया गया जबकि पुलिस रुपेश को सियरहा मोड़ से आज दिन के ग्यारह बजे गिरफ्तारी दिखा रहीं हैं और प्रेम प्रसंग की घटना बता रही है वहीं पियुस मिश्रा पुत्र राकेश मिश्रा ग्राम गडेरुआ(मट्टी का पुरा) थाना जीयनपुर ने तहरीर दिया जिसमें एक मामा गिरफ्तार दुसरा भांजा सागर तिवारी हुआ फरार।

प्रदेश