जबतक पुलिस के साथ नही होगी कोई सख्ताई,तब तक होता रहेगा युहीं, देहव्यापार कराने में एसटीएफ का हवलदार गिरफ्तार, एसएचओ सस्पेंड।

जबतक पुलिस के साथ नही होगी कोई सख्ताई,तब तक होता रहेगा युहीं, देहव्यापार कराने में एसटीएफ का हवलदार गिरफ्तार, एसएचओ सस्पेंड।

: एच एन आर : सोनीपत, दिल्ली से सटे मुरथल के ढाबों पर देह व्यापार कराने के आरोप में एसटीएफ के एक हवलदार को गिरफ्तार किया है। जांच में सामने आया कि देह व्यापार में हवलदार की साझेदारी थी। वहीं देह व्यापार पुलिस के संरक्षण में चल रहा था। मुरथल थाने के ज्यादातर पुलिसकर्मियों को इस अवैध धंधे की जानकारी थी। शुरुआती जांच के बाद तत्कालीन एसएचओ अरुण कुमार को सस्पेंड कर दिया गया है। वहीं थाने के अन्य पुलिसकर्मियों की जांच भी शुरू कर दी गई है। डीएसपी मुख्यालय ने मामले की जांच शुरू कर दी है। पुलिस ने विदेशी लड़कियों के वीजा की जानकारी के लिए विदेश मंत्रालय को पत्र लिखा है।
मुरथल के ढाबों पर देह व्यापार होने की सूचना पर सीएम फ्लाइंग के डीएसपी अजीत सिंह के नेतृत्व में सात जुलाई को छापामारी की गई थी। छापामारी में हैप्पी, राजा और होटल वेस्ट इन ढाबों पर देह व्यापार होता मिला था। टीम ने तीन विदेशियों सहित 12 लड़कियों को गिरफ्तार किया था। मौके से पांच युवक भी पकड़े गए थे। घटना के अगले दिन मुरथल थाने के एसएचओ अरुण कुमार को लाइन हाजिर कर दिया गया था।
डीएसपी की शुरुआती जांच में पाया गया कि एसएचओ दोषी हैं। उसके चलते एसपी ने एसएचओ को शनिवार को सस्पेंड कर दिया। वहीं थाने में तैनात अन्य पुलिसकर्मियों की भूमिका की जांच शुरू कर दी गई है। एसटीएफ का हवलदार के साझे में चल रहा था धंधा ढाबों पर देह व्यापार में एसटीएफ सोनीपत के हवलदार की हिस्सेदारी मिली है। डीएसपी विपिन कादयान की टीम ने एसटीएफ सोनीपत के हवलदार गांव बड़ौली के देवेंद्र को गिरफ्तार किया है। वही देह व्यापार कराने वाले ढाबा संचालकों की मुरथल पुलिस से सेटिंग कराता था।
हैप्पी ढाबा के संचालक ओमवीर ने गिरफ्तारी के दौरान एसटीएफ के हेड कांस्टेबल देवेंद्र की साझेदारी की जानकारी दी थी। देवेंद्र तकरीबन रोजाना रात को ढाबे पर आता था। इसकी पुष्टि वहां के सीसीटीवी फुटेज से हो गई है। आरोपित देवेंद्र को पुलिस ने कोर्ट में पेश किया। कोर्ट से उसको जेल भेज दिया गया है। सूत्रों के अनुसार कई पुलिसकर्मियों पर गाज गिर सकती है।
जशनदीप सिंह रंधावा (एसपी, सोनीपत) का कहना है कि मुरथल के ढाबों पर देह व्यापार के मामले में इंस्पेक्टर अरुण कुमार को सस्पेंड कर दिया गया है। एसटीएफ के हेड कांस्टेबल देवेंद्र की भूमिका सामने आई है। उसको गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस गहनता से जांच कर रही है। किसी भी दोषी को छोड़ा नहीं जाएगा।

क्राइम