चंडीगढ़ में महिला ने कार बेची, कुछ दिन बाद खुद ही बैंककर्मी बन धोखे से गाड़ी को वापस ले लिया,दर्ज हुवा केस ।

चंडीगढ़ में महिला ने कार बेची, कुछ दिन बाद खुद ही बैंककर्मी बन धोखे से गाड़ी को वापस ले लिया,दर्ज हुवा केस ।

पंचकुला_चंडीगढ़: एचएनआर : चंडीगढ़, पहले कार बेची और फिर खुद ही बैंककर्मी बनकर किस्तें बकाया होने का हवाला देकर फर्जी तरीके से गाड़ी को वापस भी ले लिया। ऐसा मामला चंडीगढ़ में सामने आया है। आरोप है कि एक महिला ने पहले कार को बेच दिया बाद में फर्जी तरीके से कार को वापस भी ले लिया। कार वापस मांगने पर बेटे से धमकी दिलाने के आरोप में पुलिस ने सेक्टर-40ए निवासी महिला रुचि अरोड़ा सहित अन्य के खिलाफ केस दर्ज कर लिया। हालांकि अभी मामले में कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है। मामले में सेक्टर-56 के रहने वाले राज कुमार गुप्ता ने शिकायत दर्ज करवाई है।
शिकायतकर्ता राज कुमार ने बताया कि उसने फरवरी 2021 को सेक्टर-40ए से चंडीगढ़ नंबर (सीएच-02 एए 4365) कार खरीदी थी। एक लाख कैश देने के साथ 14 हजार 200 रुपये की 16 किश्तें बनाई थी। कार जगदीप की पोती रुचि के नाम रजिस्टर्ड होने से सभी कागजों पर उसके हस्ताक्षर थे। 20 मई को रुचि अपने साथ गुरजंट लेकर उनके घर आई और बैंक ऑफ बड़ौदा चलने को बोलकर खरड़ कोर्ट लेकर गई। वहा पंजाबी में एफिडेविट बनवाने के बाद कार लेकर चली गई। अब कार वापस मांगने पर धमकियां मिल रही है।
संबंधित थाना पुलिस के अनुसार मामले की जांच करने के साथ दस्तावजों की जांच चल रही है। इसकी जांच के बाद आरोपितों को गिरफ्तार किया जाएगा। सूत्रों के अनुसार आरोपित महिला का बेटा विदेश में रहता है। वहां से कॉल कर उसने धमकी देकर कहा कि मां के पास दोबारा से कार के चक्कर में पहुंचे तो ठीक नहीं होगा। जिसके बाद ही पीड़ित ने पुलिस में शिकायत दी है।

क्राइम