“जैसा तुम सोचते हो, वैसे ही बन जाओगे ।

“जैसा तुम सोचते हो, वैसे ही बन जाओगे ।

: एच एन आर : “जैसा तुम सोचते हो, वैसे ही बन जाओगे। खुद को निर्बल मानोगे तो निर्बल और सबल मानोगे तो सबल ही बन जाओगे”
महान समाज सुधारक, दार्शनिक, ओजस्वी वक्ता और युवाओं के प्रेरणास्रोत स्वामी विवेकानंद जी की पुण्यतिथि पर उन्हें, समाजसेवी_हेल्थवर्कर: वीरेंदर कौर वैशाली द्वारा दी गई विनम्र श्रद्धांजलि।
#SwamiVivekananda

Uncategorized