ए डी ए आलाधिकारियों की अबतक नहीं टूटी नींद आगरा विकास प्राधिकरण

*ए डी ए आलाअधिकारियों की अब तक नहीं टूटी नींद* उत्तर प्रदेश जनपद आगरा थाना सिकंदरा के अंतर्गत गुरु का ताल गुरुद्वारा के पीछे मेघाआवासीय सहकारी समिति में अब से कुछ साल पहले मेघा आवासीय सहकारी समिति ने 85 प्लॉट आवंटित किए गए जिसमें मेघ कुंज कॉलोनी का प्लॉट नंबर 16 जो कि आगरा विकास प्राधिकरण के अंतर्गत गिरवी रखा था( ए.डी. ए. ) परंतु ए. डी.ए ऑफिस में मॉर्गेज रखा प्लॉट नंबर 16 गिरवी होने पर भी कुछ लोगों ने एडीए अधिकारियों से मिलकर मेघ कुंज प्लॉट नंबर 16 पर निर्माण कार्य शुरू कर दिया है जबकि यह बात जानने के बावजूद भी नहीं की जा रही है कोई कार्यवाही आपको बता दें कि स्थानीय लोगों के कई सूचनाएं देने पर भी नहीं रुक रहा है अवैध रूप से चल रहा निर्माण बांधकाम इतना ही नहीं मेघाआवासीय सहकारी समिति ने मकान में बना के रहने की अनुमति दी थी परंतु यहां की तो हालत ही कुछ अलग है विश्वास सूत्रों की माने तो मेघा आवासीय सहकारी समिति में एडीए अधिकारियों से मिल मिलाकर कुछ लोगों ने अवैध रूप से बड़े-बड़े कारखाने और गोडाउन बना बड़े पैमाने पर अपना व्यवसाय चला रहे हैं जिससे स्थानीय लोगों को काफी परेशानियों और दिक्कतों का सामना कर गुजरना पड़ता है जब इस बात की भनक नेशनल न्यूज़ टाइम टीम की संवाददाता को भनक लगी तो मौका मुआयना करने मेघा आवासीय सहकारी समिति स्थान पर पहुंची तो आगरा विकास प्राधिकरण के काले कारनामे सामने आये कक्कड़ खटिया वाला जिसके की दो प्लॉट है महर्षि पुरम में गुरुद्वारा के पीछे भारी मात्रा में फर्नीचर और 87 गज में बेसमेंट बनाकर बड़ा बड़ा व्यवसाय चला रहे हैं जब इस बात की सूचना लेने हमारे चैनल की संवाददाता अधिकारियों के पास गई तो यह ए.डी ए सचिव राजेंद्र त्रिपाठी से मुलाकात की सारी स्थितियों की जानकारी देते हुए आगरा विकास प्राधिकरण के अधिकारियों से मेघा आवासीय सहकारी समिति ने आवंटित की गई 85 प्लॉटों के अंतर्गत लेकर कुछ प्लॉटों में बड़ा-बड़ा व्यवसाय खोल चला रहे हैं परंतु एडिए के आला -अधिकारियों की नींद अभी तक नहीं टूट रही है जिसका कि आप देख सकते हैं सबूत कुछ तस्वीरों में रिकॉर्ड की गई कुछ ऑडियो में आलाअधिकारियों के क्या बयान हैं ?और कितनी जानकारी है? या फिर मिलीभगत है

Uncategorized