जम्मू में एयरपोर्ट के पास वायुसेना के परिसर में हमले की अब तक हुई जांच से पता चला है कि ड्रोन विस्फोटक गिराने के बाद लौट गए थे

जम्मू में एयरपोर्ट के पास वायुसेना के परिसर में हमले की अब तक हुई जांच से पता चला है कि ड्रोन विस्फोटक गिराने के बाद लौट गए थे। सूत्रों ने सोमवार को बताया कि टारगेट पर विस्फोटक गिराने के बाद ड्रोन के हैंडलर्स ने इसे वापस खींच लिया।

सूत्रों ने बताया कि घटनास्थल पर जांच कर रहे अधिकारियों को अब तक ड्रोन का कोई पार्ट नहीं मिला है। इससे पता चलता है कि एयरबेस पर हमले के लिए जिन ड्रोन्स का इस्तेमाल हुआ वे विस्फोटक गिराकर चले गए। हैंडलर्स ने ड्रोन को विस्फोटक के साथ एयरबेस के ऊपर भेजा और विस्फोटक गिराते ही इन्हें वापस मोड़ दिया।

नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (NIA), नेशनल सिक्यॉरिटी गार्ड्स (NSG), पुलिस, एयरफोर्स सहित कई एजेंसियां देश में अपनी तरह के पहले हमले की जांच में जुटी है। देश में पहली बार आतंकियों की ओर से किए गए ड्रोन हमले में किसी तरह के जानमाल का नुकसान नहीं हुआ है, लेकिन इसमें एयरफोर्स के ढांचे को नुकसान पहुंचाने की क्षमता थी।

राज्य निर्वाचन आयोग ने बिहार में प्रस्तावित पंचायत चुनाव में ईवीएम का चरणवार उपयोग करने की योजना तैयार की है।
आयोग ने राज्य के कुल एक लाख 14 हजार बूथों पर दस चरणों में चुनाव को लेकर ईवीएम का मूवमेंट प्लान तैयार कर लिया है।

पंचायत चुनाव कराने के लिए राज्य निर्वाचन आयोग ने ईवीएम को एक से दूसरे स्थान पर ले जाने के लिए मूवमेंट प्लान तैयार कर लिया है। सभी पंचायतों में चुनाव को लेकर चुनाव कार्यक्रम इस प्रकार तैयार किया जा रहा है कि एक ईवीएम सेट का उपयोग पांच चरणों में किया जा सकेगा। एक सेट ईवीएम का अगले चरण के मतदान में उपयोग के बीच करीब 13 से 15 दिनों का अंतराल दिया जाएगा।

href=”http://बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने सोमवार को इसकी पुष्टि कर दी थी कि टी20 वर्ल्ड कप का आयोजन यूएई में होगा”>बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने सोमवार को इसकी पुष्टि कर दी थी कि टी20 वर्ल्ड कप का आयोजन यूएई में होगा
इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) टी20 वर्ल्ड कप 2021 17 अक्टूबर से 14 नवंबर के बीच युनाइटेड अरब अमीरात (यूएई) और ओमान में खेला जाएगा। आईसीसी ने मंगलवार को इसकी घोषणा की। हालांकि इस टूर्नामेंट के मेजबानी के अधिकार भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के पास ही रहेंगे।

बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने सोमवार को इसकी पुष्टि कर दी थी कि टी20 वर्ल्ड कप का आयोजन यूएई में होगा। आईसीसी ने आज इसकी आधिकारिक घोषणा भी कर दी। यूएई और ओमान के चार मैदानों पर इस टूर्नामेंट के सभी मैच खेले जाएंगे, जिसमें दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम, अबू धाबी का शेख जायद स्टेडियम, शारजाह स्टेडियम और ओमान क्रिकेट अकैडमी ग्राउंड शामिल हैं।

टी20 वर्ल्ड कप 2021 का आयोजन पहले भारत में होना था, लेकिन कोविड-19 महामारी के संकट को देखते हुए इसको यूएई और ओमान में शिफ्ट कर दिया गया है। 2016 के बाद यह खेला जाने वाला पहला आईसीसी मेंस टी20 वर्ल्ड कप होगा। भारत में खेले गए उस टी20 वर्ल्ड कप के फाइनल में वेस्टइंडीज ने फाइनल में इंग्लैंड को हराया था।

2020 में टी20 वर्ल्ड कप ऑस्ट्रेलिया में खेला जाना था, लेकिन कोविड-19 महामारी के चलते इसको स्थगित करना पड़ा था। आईसीसी के सीईओ ज्यॉफ अलार्डाइस ने कहा, ‘हमारी प्राथमिकता है कि हम आईसीसी मेंस टी20 वर्ल्ड कप का सेफ्टी से दिए गए विंडो आयोजन कराएं।’

पटना में अपनी मांगों को लेकर शिक्षा मंत्री आवास का घेराव करने जा रहे एसटीईटी अभ्यर्थियों पर पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया।
नाराज अभ्यर्थी अपनी मांगों को लेकर शिक्षा मंत्री विजय चौधरी के आवास का घेराव करने जा रहे थे। तभी सचिवालय थाने की पुलिस ने अभ्यर्थियों को ईको पार्क के पास रोकने की कोशिश की। इस पर लामबंद अभ्यर्थी पुलिस से भिड़ गये। इसके बाद पुलिस ने अभ्यर्थियों को लठियाना शुरू कर दिया।

लाठीचार्ज होने पर अभ्यर्थी अपनी जान बचाने के लिए इधर-उधर भागने लगे, लेकिन दूर तक पीछा कर पुलिस ने भाग रहे अभ्यर्थियों को लठियाया। हंगामा व लाठीचार्ज होने के कारण ईको पार्क सचिवालय मार्ग पर काफी देर तक अफरा-तफरी मची रही और यातायात प्रभावित रहा। वहीं कई अभ्यर्थी जख्मी भी हो गये। लाठीचार्ज को लेकर अभ्यर्थी धरने पर बैठ गये।

मामला हाल में ही जारी टीचर नियुक्ति को लेकर जारी मेरिट लिस्ट को लेकर था, जिसमें बड़ी संख्या में एसटीईटी पास अभ्यर्थी ऐसे हैं, जिन्हें सूची में अपात्र घोषित किया था। जबकि पूर्व में सरकार ने घोषणा की थी कि एसटीईटी पास सभी अभ्यर्थियों को टीचर की नियुक्ति में मौका दिया जाएगा।

बड़ी खबर