यूनियन बैंक ऑफ इंडिया में है अकाउंट तो 4 दिन के अंदर पूरा कर लें ये काम, नहीं तो रुक जाएगा आपका पेमेंट

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया में है अकाउंट तो 4 दिन के अंदर पूरा कर लें ये काम, नहीं तो रुक जाएगा आपका पेमेंट

पिछले 1 अप्रैल से ही यूनियन बैंक ऑफ इंडिया में आंध्रा बैंक और कॉरपोरेशन बैंक का विलय हुआ था. अब यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने ग्राहकों से पुराने चेकबुक की जगह नया चेकबुक जारी करने को कहा है. 01 जुलाई 2021 से पुराने चेकबुक बेकार हो जाएंगे.

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया

आंध्रा बैंक और कॉरपोरेशन बैंक के साथ मर्जर के बाद यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने ग्राहकों के लिए एक खास सूचना जारी किया है. यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने कहा है कि बैंक ग्राहकों को नये सिक्‍योरिटी फीचर्स वाले चेक का ही इस्‍तेमाल करना है. ग्राहकों के पास इसके लिए 30 जून तक का समय है. 01 जुलाई 2021 से उनका सभी पुराने चेक अमान्‍य हो जाएंगे. 01 अप्रैल 2020 से ही आंधा बैंक और कॉरपोरेशन बैंक का विलय यूनियन बैंक ऑफ इंडिया में हुआ था. मर्जर के बाद इन दोनों बैंकों को IFSC भी बदल गया है.

इस पब्लिक सेक्‍टर बैंक की ओर से जारी बयान में कहा गया, ‘आरबीआई के निर्देशानुसार, आंध्रा बैंक और कॉरपोरेशन बैंक द्वारा जारी सभी पुराने चेकबुक अमान्‍य हो जाएंगे. 01 जुलाई 2021 इसे ये चेक बेकार हो जाएंगे. सभी ग्राहकों से अनुरोध है कि डेडलाइन खत्‍म होने से पहले वे अपने ब्रांच से सपंर्क कर पुराने चेकबुक के बदले नया चेकबुक जारी करा लें.

01 जुलाई से काम नहीं करेगा पुराना चेक

ग्राहकों को जानकारी देते हुए यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने कहा कि 01 जुलाई 2021 से सभी पुराने चेकबुक को सिस्‍टम से बाहर किया जा रहा है. बैंक ग्राहकों से अनुरोध कर रहा है कि वे अपने पुराने चेकबुक की जगह नया चेकबुक जारी करा लें.

रुक जाएगा पुराने चेक से पेमेंट

अगर किसी ग्राहक ने पुराने चेकबुक से कोई चेक जारी कर दिया है तो इसे भी वे तुरंत नये चेक से बदलवा लें. ग्राहकों की ओर से नये चेकबुक जारी होने की कंफर्मेशन मिलने के बाद कोर बैंकिंग सिस्‍टम (CBS) से बैंक पुराने चेक का रिकॉर्ड डिलीट कर दिया जाएगा. ऐसे में जरूरी है कि आप नया चेक ही जारी करें, नहीं तो आपका पेमेंट भी रुक सकता है.

बैंक ने यह भी कहा कि कुछ ग्राहक दिसंबर 2010 से पहले का चेकबुक इस्‍तेमाल कर रहे हैं. ये चेकबुक चेक ट्रंकेशन सिस्‍टम (CTC-100) से पहले का है. इसमें कई तरह के सिक्‍योरिटी फीचर्स नहीं हैं. ऐसे में इन ग्राहकों को भी अपना चेकबुक बदलवाकर नया चेकबुक जारी करना होगा.

 

 

 

 

 

प्रदेश