पंजाब सरकार के चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान विभाग ने एक अहम फैसला लेते हुए विभाग के अधीन आने वाले कालेजों में एम.बी.बी.एस., बी.डी.एस., बी.ए.एम.एस. और अन्य पैरा मैडीकल कोर्सों की सभी कक्षाओं को 28 जून से शुरू करने के आदेश

पंजाब सरकार के चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान विभाग ने एक अहम फैसला लेते हुए विभाग के अधीन आने वाले कालेजों में एम.बी.बी.एस., बी.डी.एस., बी.ए.एम.एस. और अन्य पैरा मैडीकल कोर्सों की सभी कक्षाओं को 28 जून से शुरू करने के आदेश

चंडीगढ़: पंजाब सरकार के चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान विभाग ने एक अहम फैसला लेते हुए विभाग के अधीन आने वाले कालेजों में एम.बी.बी.एस., बी.डी.एस., बी.ए.एम.एस. और अन्य पैरा मैडीकल कोर्सों की सभी कक्षाओं को 28 जून से शुरू करने के आदेश दिए हैं।

ओमप्रकाश सोनी ने बताया कि विभाग द्वारा यह फैसला कोरोना के घट रहे प्रभाव को देखते हुए लिया गया है, जिससे विद्यार्थियों की पढ़ाई का और नुकसान न हो। चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान संबंधी मंत्री ने कहा कि कोरोना बीमारी की दूसरी लहर का मुकाबला करने के लिए विभाग के अधीन आने वाले सरकारी मैडीकल कालेजों और अस्पतालों के डाक्टरों, एस.आर., जे.आर. और पैरा-मैडीकल स्टाफ द्वारा बहुत प्रशंसनीय कार्य किया गया है, जिसके स्वरूप कोरोना महामारी का मुकाबला करने में राज्य सरकार सफल हुई है।

कालेज ज्वाइन करने वाले विद्यार्थियों के लिए आर.टी.पी.सी.आर. की नैगेटिव रिपोर्ट या कोरोना संबंधी टीकाकरण का सर्टीफिकेट पेश करना अनिवार्य किया गया है। उन्होंने बताया कि विभाग द्वारा सभी मैडीकल डैंटल नर्सिंग कालेजों और स्कूलों के विद्यार्थियों की भी कक्षाएं शुरू करने के आदेश जारी किए गए हैं।

प्रदेश बड़ी खबर राजनीति