लखीमपुर जिले में मातृत्व दिवस मनाया गया

लखीमपुर जिले में मातृत्व दिवस मनाया गया

#लखीमपुर #खीरी #के #सामुदायिक #स्वास्थ्य #केंद्र #खमरिया/ #ईसानगर #जनपद #खीरी #में #मनाया #गया #प्रधानमंत्री #सुरक्षित #मातृत्व #दिवस आज दिनाँक 9 जून 2021 दिन बुधवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र खमरिया /ईसानगर जनपद लखीमपुर खीरी में शासन के आदेशों के क्रम में आज से पुनः कोविड 19 की गाइड लाइन के साथ मे प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व दिवस मनाया गया।इस अभियान के तहत गर्भवती महिलाओं की जाँच की गई और उनको आवश्यक सेवाएं ओर दबाए आयरन कैल्शियम की गोलियां उपलव्ध कराई गई।सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र खमरिया के अधीक्षक डॉ0 बी0 के0 स्नेही ने बताया कि शासन के आदेशों के तहत प्रत्येक माह की 9 तारीख को प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान के तहत सभी गर्भवती महिलाओं की योग्य चिकित्सकों के द्वारा जांच की जाती है। कोविड 19 के प्रकोप के कारण अभी तक ये सेवाएं अप्रैल माह से बंद थी। इसी क्रम में आज हाई रिस्क प्रेग्नेंसी की भी जांच की गई और उनको उचित जांचे ,इलाज ओर दवाएं मुहैया कराई गई।सभी गर्भवती महिलाओं को बताया जाता है कि बो बहुत खास है।जोखिम बाली गर्भवती महिलाओं को स्क्रीनिंग किया जाता है ताकि उनको समय पर रेफेरल हाई सेंटर पर किया जा सके।और जच्चा ओर बच्चा को सुरक्षित बचाया जा सके। डॉ 0स्नेही ने बताया कि इस वार राज्य सरकार से प्राप्त निर्देशों के तहत आज पहिली बार जांच कराने आई महिलाओं को प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना में पंजीकृत किया गया है। इस योजना के तहत महिलाओं को पहली बार माँ बनने पर ओर बच्चे के पैदा होने पर प्रधानमंत्री मातृ वन्दन योजना के अन्तर्गत तीन किश्तों में रुपये 5000 रुपये की धनराशि लाभार्थी को देय है।डा0 स्नेही ने बताया कि हर गर्भवती महिला को जैसे ही पता चले की बो गर्भवती है तो तत्काल सरकारी होस्पिटल में आकर दिखाए ओर रजिस्ट्रेशन कराए ओर समय पर ब्लड टेस्ट, यूरिन टेस्ट,ब्लड प्रेशर, हेमोग्लोबिन, बजन , आजकल कोविड 19 का टेस्ट भी ओर अल्ट्रासाउंड की जांच अवश्य कराए ताकि जोखिम भरी स्थिति को पहचाना जा सके और समय सीमा में उपचार किया जा सके।जोखिम भारी स्थितियों से निपटने के लिए ही हर तिमाही पर अपनी जांचे अवश्य कराए।ओर अपनी गर्भावस्था में कम से कम 4 जांचे अवश्य कराए ओर टेटनस की दो इंजेक्शन अवश्य लगवाए।डॉ0 स्नेही ने बताया कि किसी भी गर्भवती महिलाओं में निम्न खतरे के लक्षण जैसे तेज बुखार, योनि से श्राव ,त्वचा में पीलापन,तेज सिर दर्द, ओर धुंधला दिखना,उच्च रक्तचाप, योनि से रक्तस्राव ,दौरे पड़ना, हाथों पांवों ओर चेहरे में सूजन आना,भ्रूण का न हिलना ओर कम हिलना ,आदि मिलने पर उसे सतर्क हो जाना चाहिए और तत्काल पास के सरकारी अस्पताल में जाकर योग्य चिकित्सक को दिखाना चाहिए।ओर चिकित्सक द्वारा बताई गई बातों पर अमल करना चाहिए।शासन द्वारा मातृ ओर बाल म्रत्यु दर में कमी लाने के लिए भरसक प्रयाश किये जा रहे है। ऐसी स्थितियों से निपटने के लिये 102 ओर 108 एम्बुलेंस सेवा का निःशुल्क प्रयोग करना चाहिए।अपने ब्लॉक के ईसानगर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर डॉ विनीता सिंह और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र खमरिया मे डॉ0 हसमत आरा महिला आयुष चिकित्सक संबिदा के पद पर तैनात है और जो नियमित सेवाएं मुहैया कराती है। आज के दिन सभी गर्भवती महिलाओं की कोविड 19 की जांच भी केम्प लगाकर की गई ।अति गंभीर और गंभीर एनीमिया की महिलाओं को आयरन सुक्रोज के इंजेक्शन भी लगाए गए ।ओर आयरन व कैल्शियम की गोलियां वितरित की गई।सभी गर्भवती महिलाओं की कोविड 19 की एंटीजेन किट से जांचे की गई।जिसमें सभी की रिपोर्ट नेगेटिव रही।*

प्रदेश